NSE का अवलोकन

nse ब्रोकर और प्लेटफार्म

NSE भारत में सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंजों में से एक है। इस लेख में, हम आपको NSE और उसके फंक्शन्स के बारे में बताएँगे, और आप यह भी सीखेंगे कि इस इंटरनेट ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के साथ भारतीय बाजारों में कैसे निवेश किया जाए।

NSE क्या है?

nse इंडिया
NSE का पूरा नाम नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया है। NSE के लोगो को दुनिया भर में मान्यता प्राप्त है: यह इक्विटी शेयर बाजार की ट्रेडिंग मात्रा के हिसाब से दुनिया का चौथा सबसे बड़ा स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है। NSE को भारतीय शेयर बाजारों में निवेश करने के लिए भी सबसे अच्छे प्लेटफार्मों में से एक माना जाता है।

NSE का कार्यालय 1992 में, मुंबई में खोला गया था; इसका सर्वर वहीं स्थित है। NSE भारत का पहला इलेक्ट्रॉनिक और स्क्रीन-आधारित ट्रेडिंग टाइमिंग वाला एक्सचेंज है। एक वर्ष में, NSE को स्टॉक एक्सचेंज के रूप में भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) द्वारा मान्यता दी गई, और इसने 1994 में थोक ऋण बाजार और नकद बाजार खंड के लॉंच के साथ ट्रेडिंग गतिविधियाँ शुरू की। उस समय से, NSE ने भारतीय शेयर बाजार में अपनी गतिविधियों का विस्तार करना शुरू कर दिया।

नोट! www.nseindia.com भारत की सबसे महत्वपूर्ण शेयर मार्केट वेबसाइटों में से एक है।

आज, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड में एक्सचेंज लिस्टिंग, इंडेक्स, ट्रेडिंग सर्विसेज, क्लियरिंग सर्विसेज, कॉरपोरेट बॉन्ड और टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस शामिल हैं। निवेशक लाइव शेयर की कीमतें देख सकते हैं और चार्टों का नि:शुल्क निरीक्षण कर सकते हैं। इसके साथ ही, BNSE ऑनलाइन एक्सचेंज के सदस्यों की ट्रेडिंग को नियंत्रित करता है, नियमों के अनुपालन की निगरानी करता है, और अनुशंसा प्रदान करता है।

एक्सचेंज में NSE अकादमी भी है, जो की एक ऑनलाइन कैंपस है जो पाठ्यक्रम सहित वित्त प्रशिक्षण प्रदान करता है (Google करने की आवश्यकता नहीं – लिंक यहाँ है)। आप ऑप्शंस ट्रेडिंग रणनीतियों को सीखने के लिए निम्नलिखित कोर्स कर सकते हैं।

नोट! NSE Academy में BSc बनने का विकल्प नहीं है क्योंकि ट्रेडिंग कोई विज्ञान नहीं है।

NSE प्राडक्टस

nse उत्पादों
आइए देखें कि NSE ने कौन से प्राडक्टस बनाए और वर्तमान में बना रहा है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड पर, आप तीन मुख्य श्रेणियों में ट्रेड कर सकते हैं:

  • इक्विटी;
  • डेरिवेटिव मार्केट
  • निश्चित आय और डेब्ट।

NSE India की आधिकारिक साइट पर, आप दैनिक बाजार रिपोर्टें, टिकर परिवर्तन, ऐतिहासिक बाजार डेटा के ग्राफिक्स और प्राडक्टस की जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं।

डेरिवेटिव सेक्शन में, आप ब्याज दरों, इक्विटी, कमोडिटी और करेंसी डेरिवेटिव्स के बारे में मौजूदा बाजार की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

निश्चित आय और डेब्ट सेक्शन में कॉरपोरेट बॉन्ड और Tri-party REPO के बारे में जानकारी होती है। यहाँ ट्रेडर्स सरकारी प्रतिभूतियों में Electronic debt bidding platform (EBP), Negotiated trade reporting platform और गैर-प्रतिस्पर्धी बोली के बारे में जान सकते हैं।

उपयोगकर्ता अब नई NSE वेबसाइट पर ऑनलाइन NIFTY 50 भी देख सकते हैं। यह NSE का प्रमुख सूचकांक है, जो भारतीय इक्विटी बाजार में सबसे बड़ी कंपनियों के 50 शेयरों की निगरानी करता है। विशेष रूप से, यूएस के निवेशक एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड (ETF) के साथ इस इंडेक्स तक पहुँच सकते हैं, उदाहरण के लिए, iShares India 50 ETF (INDY)। NSE की वेबसाइट पर आप NIFTY High Beta 50 और अन्यों के स्टॉक की कीमत भी जान सकते हैं।

नोट! NIFTY 50 के बारे में wikipedia.org पर और पढ़ें। आसानी से पढ़ने के लिए, आप वहाँ “मेरी भाषा” चुन सकते हैं, उदहारण के लिए अंग्रेजी भाषा, हिंदी, गुजराती, या अन्य।

NSE के फंक्शन्स

NSE के निम्नलिखित प्रमुख कार्य हैं:

  • एक ट्रेडिंग सुविधा बनाना, जहाँ निवेशक इक्विटी, डेब्ट और अन्य परिसंपत्ति वर्गों के साथ सौदे कर सकते हैं।
  • निवेशकों के लिए एक विश्वसनीय संचार माध्यम बनना और उन्हें समान अवसर प्रदान करना।
  • एक ऐसा ट्रेडिंग पोर्टल बनना जो वित्तीय विनिमय बाजारों के लिए वैश्विक मानकों के अनुसार कार्य करता हो।
  • ट्रेडर्स के लिए कम अवधि का ट्रेड करना और बुक-एंट्री निपटान प्रणाली का उपयोग करना संभव बनाना।

NSE इसके अतिरिक्त भी कार्य करता है, जैसे व्यापारियों की शिक्षा और परामर्श, बाजार की रिपोर्टे जारी करना, और भी बहुत कुछ।

NSE कैसे काम करता है?

nse ट्रेडिंग
NSE ऑनलाइन शेयर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म सेवाएँ प्रदान करता है जो खुले बाजार के ऑर्डरों के साथ काम करती हैं। NSE के ऑनलाइन ट्रेडिंग सिस्टम को NEAT (National Exchange for Automated Trading) के रूप में जाना जाता है, जबकि BSE को BOLT (BSE Online Trading System) के रूप में जाना जाता है।

कंप्यूटर टर्मिनल स्वचालित रूप से बाजार निर्माताओं की ओर से किसी भी प्रकार की बाहरी भागीदारी के बिना ऑर्डर के लिए मैच खोजते हैं। ऑर्डर देने के लिए, निवेशक सीधे मार्केट में ऑर्डर करता है और एक अद्वितीय ट्रेडिंग नंबर प्राप्त करता है। फिर, सिस्टम इस ऑर्डर को एक लिमिट ऑर्डर से मिलाता है और खरीदार और विक्रेता पूरे लेनदेन के दौरान गुप्त रहते हैं।

नोट! XNSE एक NSE का MIC है – एक ऐसा विशिष्ट पहचान कोड जिसका उपयोग प्रतिभूति ट्रेडिंग एक्सचेंजों और विनियमित और गैर-विनियमित ट्रेडिंग बाजारों की पहचान करने के लिए किया जाता है।

यदि NSE प्रणाली को कोई मैच नहीं मिलता है, तो ऑर्डर प्रतीक्षा सूची में स्थानांतरित हो जाता है, जहाँ अनुक्रम मूल्य-समय की प्राथमिकता पर निर्भर करता है। दूसरे शब्दों में, NSE एक्सचेंज, ऑर्डर के लिए सबसे अच्छा अगला शेयर मूल्य और समापन मूल्य खोजता है। यदि कई एक जैसे ऑर्डर हों, तो मैच सबसे कम समय वाले ऑर्डर के साथ किया जाता है।

ब्रोकरों के लिए NSE के साथ डिपॉजिटरी NSDL (National Securities Depository Limited) जो की भारतीय केंद्रीय प्रतिभूति डिपॉजिटरी है, के माध्यम से दैनिक ट्रेड करना बहुत आसान है। इसकी मदद से, ट्रेडर्स स्टॉक का मूल्य लगा सकते हैं, NSE में स्टॉक की बुक एंट्री (BE) कर सकते हैं, और प्रतिभूतियों को होल्ड और ट्रेड कर सकते हैं। उदाहरण के लिए स्टॉक एक्सचेंज में NSC का फुल फॉर्म। इसके अलावा, NSE के साथ, उपयोगकर्ताओं को तेज परिणामों के साथ डिजिटल रूप से ट्रेड की कॉल करने की स्वतंत्रता है।

नोट! भारत में बाइनरी ऑप्शन ट्रेडिंग कानून से बाहर है।

NSE की आधिकारिक वेबसाइट का उपयोग कैसे करें?

nse वेबसाइट
NSE पर, निवेशक इलेक्ट्रॉनिक स्क्रीन पर रियल टाइम में प्रतिभूतियों के मूल्य में परिवर्तन, ऊपर या नीचे होते देख सकते हैं और तय कर सकते हैं कि अपने ब्रोकर्स के माध्यम से उन्हें कहाँ निवेश करना चाहिए। NSE डेटा सिस्टम बाजार की मौजूदा स्थिति के बारे में सूचित करता है और सभी आवश्यक वित्तीय विवरण देता है।

उपयोगकर्ताओं को बाजार के सदस्य बनने के लिए कई शर्तों को पूरा करना होता है और NSE के माध्यम से निवेश प्रोडक्ट्स को खरीदने के योग्य बनना पड़ता है:

  1. सभी निवेशकों के पास PAN Card होना चाहिए। यह भारतीय अधिकारियों द्वारा जारी एक स्थायी खाता संख्या है, और उपयोगकर्ता इसे कई शहरों और राज्यों जैसे हरियाणा, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, दिल्ली और कई अन्य शहरों से प्राप्त कर सकते हैं।
  2. उपयोगकर्ता को NSE प्रमाणित स्टॉक ब्रोकर चुनना चाहिए और उसके साथ सीधा समझौता करना चाहिए।
  3. उनके पास एक बैंक खाता और एक Demat खाता होना चाहिए (डेमो के साथ भ्रमित नहीं होना चाहिए)।

यदि ये सभी लॉगिन चरण सफल होते हैं, तो एक निवेशक मुद्रा या अन्य संपत्ति का ऑनलाइन ट्रेड कर सकता है।

ग्राहकों को यह ध्यान रखना चाहिए कि प्रत्येक स्थिति में NSE सदस्य होने का अर्थ कुछ निश्चित शुल्क होता है। विशेष रूप से, ये आवेदन प्रसंस्करण शुल्क और शेयरों की डिलिवरी के लिए कमीशन हैं।

NSE में खाते के प्रकार

nse जानकारी
NSE पर ट्रेड करने के लिए, आपको कम से कम दो खातों की आवश्यकता होगी: Demat और Trading.

Demat खाता

NSE के साथ ट्रेडिंग शुरू करने के लिए Demat खाता एक पूर्व-आवश्यक शर्त है। Demat खाता खोलने के लिए आपको पासपोर्ट साइज फोटो, वोटर ID कार्ड, PAN कार्ड और पते के प्रमाण पत्र जैसे दस्तावेज देने होंगे। लेकिन याद रखें कि यह खाता केवल प्रतिभूतियों को रखने के लिए ही है। यदि आप प्रतिभूतियों या शेयरों का व्यापार करना चाहते हैं, तो आपको एक Trading खाता खोलने की आवश्यकता है।

Trading खाता

एक Trading खाते को Demat खाते और Savings बैंक खाते के बीच का सेतु कहा जाता है। जब कोई निवेशक स्टॉक खरीदता है, तो आवश्यक धन को बैंक खाते से निकाल लिया जाता है, और प्रतिभूतियाँ ट्रेडिंग खाते में दिखाई देती हैं।

साथ ही, निवेशकों को यह याद रखना चाहिए कि वे विभिन्न ब्रोकरों के साथ कई Demat और Trading खाते खोल सकते हैं। यदि आप चाहें तो 60 खाते भी खोल सकते हैं, लेकिन एक ब्रोकर के पास केवल एक ही खाता खोलने की अनुमति है।

NSE मोबाइल ऐप

एक्सचेंज तक पहुँचने के लिए, नए और पुराने उपयोगकर्ता आधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर जा सकते हैं। इसके अलावा, निवेशक Apple स्टोर और Google Play के माध्यम से iOS और Android के लिए NSE मोबाइल ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। मोबाइल ऐप्स के साथ, आपको ट्रेडिंग के लिए अधिक समय मिलेगा। ये न केवल घर से बल्कि दुनिया में कहीं से भी NSE प्लेटफॉर्म पर ट्रेड करने की अनुमति देते हैं, उदाहरण के लिए सिंगापुर में भी।

NSE ऐप निवेशकों के लिए चलते-फिरते ट्रेड करने और बाजार के सभी नवीनतम समाचारों जैसे कि बाजार की खबर, बाजार की स्थिति, और सर्कुलर अपडेट जैसे कि स्टॉक कोट्स, इंडेक्स वैल्यू, कॉर्पोरेट घोषणाएँ, और अन्य ख़बरों को ट्रैक करना संभव बनाता है। इनके पास एक सुविधाजनक डैशबोर्ड है जिसमें बाजार के स्नैपशॉट और अन्य प्रासंगिक विपणन जानकारी होती है। इसलिए, कई ट्रेडर्स का मानना है कि NSE इंडिया की पूरी वेबसाइट की तुलना में ऐप अधिक सुविधाजनक होते हैं।

NSE इंडिया के फायदे और नुकसान

nse क्या है
NSE के कई लाभ हैं, और उनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

  • NSE स्टॉक एक्सचेंज के पास नवीनतम स्वचालित सॉफ्टवेयर है। NSE का आधुनिक ट्रेडिंग तंत्र निवेशकों को यह विश्वास दिलाता है कि उनके ऑर्डर सही तरीके से संसाधित किए गए हैं।
  • NSE ट्रेडिंग सेटलमेंट को प्रोसेस करते समय पूर्ण पारदर्शिता और दक्षता सुनिश्चित करता है।
  • NSE IFSC (NSE इंटरनेशनल एक्सचेंज) NSC, Google, Amazon, Tesla, Microsoft, NIC, NAC (या NACIndia), NDTL, India LIC, Cimmco Ltd और अन्य सर्वश्रेष्ठ अमेरिकी और भारतीय कंपनियों से अच्छी कीमत पर शेयर खरीदना संभव बनाता है।

हालाँकि NSE के कई फायदे हैं, लेकिन इसकी कुछ सीमाएँ भी हैं:

  • NSE का पोर्टफोलियो विविधीकरण इतना विशाल नहीं है, उदाहरण के लिए, अमेरिकी बाजार की तुलना में, जहाँ बहुत सी वैश्विक कंपनियाँ सूचीबद्ध हैं।
  • भारतीय शेयर बाजार में दूसरों की तुलना में अधिक अस्थिरता है, उदाहरण के लिए अमेरिकी स्टॉक एक्सचेंज बाजारों की तुलना में देखें तो।
  • NSE में अन्य एक्सचेंजों की तुलना में इतनी सूचीबद्ध कंपनियाँ नहीं हैं। NSE में औसतन 2000 कंपनियाँ सूचीबद्ध हैं, जिनमें AI कंपनियाँ भी शामिल हैं।

निष्कर्ष

बाजार nse
आज, NSE भारत में एक प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज है। यह हर वो चीज़ जिसकी निवेशकों को जरुरत हो सकती है जैसे एक्सचेंज लिस्टिंग से ट्रेडिंग सेवाएँ, क्लियरिंग और सेटलमेंट सेवाएँ, और अन्य कई सेवाएँ प्रदान करता है। NSE ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के मोबाइल-सुलभ होने के कारण, आप चलते-फिरते भी ट्रेड कर सकते हैं। तो, आप आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से NSE में लॉग इन कर सकते हैं और अभी निवेश करना शुरू करें।

याद रखें कि ट्रेडिंग एक ऐसा व्यवसाय है जो महान अवसर और वित्तीय जोखिमों का एक निश्चित प्रतिशत ले कर आ सकता है। ध्यान रखें कि NSE आपके ट्रेडिंग निर्णय के परिणामों के लिए जिम्मेदार नहीं है। केवल प्रशिक्षण ही निवेशित निधियों के दर के जोखिम को कम करने में मदद करेगा। इंटरनेट से टिप्स पढ़ने के बजाय, NSE Academy या ITI ट्रेड पेज देखें।

Rate article
Online Investment