S&P BSE SENSEX इंडेक्स के बारे में सब कुछ

value of sensex सूचकांक

क्या आप उन लोगों में से एक हैं जो हर सुबह परिचित प्रतीक चिन्ह की तलाश में “आज का शेयर बाजार” खंड में डुबकी लगते हैं? यदि हाँ, तो आप ‘SENSEX’ शब्द के बारे में ज़रूर जानते होंगे, जो लगभग हर दिन वेबसाइटों की सुर्खियों और उद्धरणों पर छाया रहता है। क्या आपने कभी सोचा है कि SENSEX में उतार-चढ़ाव हमेशा इंडियन स्टॉक मार्किट की पहली कुछ पंक्तियों में क्यों होता है?

मान लीजिए कि आप इसके बारे में जानना चाहते हैं या इंडियन शेयर बाजार में निवेश करने पर विचार कर रहे हैं। तो इस स्थिति में, यह समझना महत्वपूर्ण है कि SENSEX की गणना कैसे की जाती है, इसका मूल्य और आपके निवेश पोर्टफोलियो को यह कैसे प्रभावित कर सकता है। इस लेख में आपको SENSEX इंडेक्स के बारे में सारी जानकारी मिलेगी। हम इसकी कम्पोज़िशन को कवर करेंगे, कैसे ट्रेडिंग सिस्टम इसकी पोज़िशन की गणना करता है और इसके कार्य यानि परफॉरमेंस को प्रभावित करने वाले कुछ कारकों पर चर्चा करेंगे।

SENSEX क्या है?

सूची bse
SENSEX, या बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) इंडेक्स, भारत में सबसे व्यापक रूप से ट्रैक किया जाने वाला इक्विटी मापक है। SENSEX का फुल फॉर्म दो शब्दों सेंसिटिविटी और इंडेक्स के जोड़ से बना है।

नोट! BSE की स्थापना 1875 में बॉम्बे (अब मुंबई) में हुई थी, जिससे यह भारत के इतिहास में पहला और एशिया का सबसे पुराना स्टॉक एक्सचेंज बन गया है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह दुनिया का सबसे तेज स्टॉक एक्सचेंज है।

SENSEX भारत का प्राथमिक स्टॉक मार्केट इंडेक्स है। यह Bombay Stock Exchange में सूचीबद्ध स्टॉक्स के प्रदर्शन को मापता है और भारत की अर्थव्यवस्था के समग्र स्वास्थ्य का एक महत्वपूर्ण संकेतक है। S&P BSE SENSEX एक फ्री-फ्लोट स्टॉक मार्केट इंडेक्स है जो 30 आर्थिक रूप से मजबूत और अच्छी तरह से स्थापित भारतीय कंपनियों से बना है। यह उनके बाजार के पूँजीकरण के अनुसार तोला जाता है। ये 30 कंपनियाँ भारतीय अर्थव्यवस्था के विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करती हैं। उनके स्टॉक शेयर बाजार में सबसे मूल्यवान और व्यापक रूप से ट्रेड किए जाने वाले शेयरों में से हैं।

संक्षेप में, SENSEX भारत में इन सबसे बड़ी सूचीबद्ध कंपनियों के मौजूदा प्राइस मूवमेंट्स पर नज़र रखता है।

नोट! यह कोई रहस्य नहीं है कि सेक्योरिटीज़ महत्वपूर्ण ख़बरों से जुडी होती हैं। इस लिए, भारतीय संसद में 2022-2023 के लिए केंद्रीय बजट प्रस्तुति से पहले 1 फरवरी को Sensex 600 अंक से भी अधिक बढ़ गया था।

SENSEX की 30 कंपनियाँ

sensex 30 empresas
SENSEX, BSE में सूचीबद्ध 30 कंपनियों का शेयर बाजार इंडेक्स है। BSE इंडेक्स में कंपनियों को शामिल करना कई मानदंडों पर आधारित है: लिक्विडिटी, मेगा-कैप या साइज़, स्वस्थ बैलेंस शीट, अच्छा रेवेन्यु मार्जिन, और जिस उद्योग में वे काम करते हैं उसके बाजार में महत्वपूर्ण हिस्सेदारी।

SENSEX की ये 30 कंपनियाँ नकद प्राप्त करती हैं, इसे स्टॉक में परिवर्तित करती हैं और अगले दिन इसे बेच देती हैं। एक व्यक्ति जिसके पास किसी कंपनी का स्टॉक होता है, वह उस कंपनी का शेयरहोल्डर कहलाता है। इन कंपनियों के शेयरों की कीमत ऊपर-नीचे होती रहती है। इस दौरान, भारत में ऑनलाइन ट्रेडिंग तेज़ी से बढ़ रही है, इसलिए वित्तीय जोखिमों के बारे में याद रखना अच्छा होगा। धन के नुक्सान से बचने के लिए निर्णय सही ढंग से किए जाने चाहिए।

आखरी खबर के अनुसार, अलग-अलग मार्केट वैल्यू वाली SENSEX कंपनियों की आज की लिस्ट इस प्रकार है:

  1. ASIAN PAINTS
  2. AXIS BANK
  3. BAJAJ FINANCE
  4. BAJAJ FINSERV
  5. BHARTI AIRTEL
  6. DR. REDDY’S LAB
  7. HCL TECHNOLOGIES
  8. HDFC
  9. HDFC BANK
  10. HUL
  11. ICICI BANK
  12. INDUSIND BANK
  13. INFOSYS
  14. ITC Limited
  15. KOTAK MAHINDRA BANK
  16. L&T
  17. M&M
  18. MARUTI SUZUKI
  19. NESTLE
  20. NTPC
  21. POWER GRID
  22. RELIANCE IND.
  23. SBI
  24. SUN PHARMA
  25. TATA STEEL
  26. TCS
  27. TECH MAHINDRA
  28. TITAN
  29. ULTRATECH CEMENT
  30. WIPRO।

नोट! SENSEX की यह नवीनतम सूची अप्रैल 2022 से है।

SENSEX की गणना कैसे की जाती है?

sensex मूल्य
SENSEX की गणना एक फ्री-फ्लोट कैपिटलाइज़ेशन मेथॅड का उपयोग करके की जाती है। कंपनियों के शेयरों को भारत में सभी शेयरों के कुल बाजार पूँजीकरण के हिसाब से मापा जाता है, बजाय उनके जो केवल अन्य बाजारों की तरह अपने बेंचमार्क बनाते हैं, जो उन्हें छोटी फर्मों की तुलना में ज़्यादा महत्व देते हैं बजाय उसके जो असल में उन्हें देना चाहिए।

SENSEX एक लोकप्रिय इंडेक्स है जो अपने सर्किट के अंदर की सबसे महत्वपूर्ण कंपनियों को मानता है। हालाँकि, अन्य तरीकों के विपरीत, यह केवल उन शेयरों को वज़न देता है जो स्वतंत्र रूप से ट्रेड के लिए उपलब्ध हैं बजाय उनके जो अंदरूनी या कुछ स्वामित्व के प्रतिबंधित वर्गों के पास होते हैं जैसे की REITs (रियल एस्टेट निवेश ट्रस्ट)।

उदाहरण के लिए, मान लीजिए कि किसी कंपनी के पास 100 शेयर हैं, जिनमें से प्रमोटर या सरकार के पास 30 शेयर हैं, और शेष 70 आम जनता को ट्रेड करने के लिए उपलब्ध हैं। उन 70 शेयरों को फ्री-फ्लोटिंग शेयर माना जाता है, और फ्री फ्लोटर फैक्टर 70% है। बाजार पूँजीकरण का निर्धारण उस कंपनी द्वारा प्रस्तुत शेयरों की संख्या के साथ शेयर की कीमत को गुणा करके निकाला जाता है।

SENSEX की गणना करने के चरण इस प्रकार हैं:

  • सभी 30 कंपनियों का बाजार पूँजीकरण निर्धारित किया जाता है।
  • इन सभी 30 कंपनियों का फ्री फ्लोट मार्केट कैपिटलाइज़ेशन निर्धारित किया जाता है।
  • इन सभी 30 कंपनियों के फ्री फ्लोट मार्केट कैपिटलाइज़ेशन को कुल फ्री फ्लोट कैपिटलाइज़ेशन प्राप्त करने के लिए सम्‍मिलित किया जाता है।
  • SENSEX की गणना करने का फॉर्मूला है (कुल फ्री-फ्लोट मार्केट कैपिटलाइज़ेशन / बेस मार्केट कैपिटलाइज़ेशन) * बेस इंडेक्स वैल्यू

SENSEX के मूल्य की गणना करने के लिए, हम 1978-79 का अपने आधार वर्ष के रूप में उपयोग करते हैं। इंडेक्स 100 है, इसलिए यह देखना आसान है कि कितने पैसों ने हाथ बदले हैं।

SENSEX में कैसे निवेश करें?

sensex में निवेश करें
जैसा कि आप देख सकते हैं, SENSEX भारत की सबसे अच्छी कंपनियों से बना है। क्या आपने इनके शेयर खरीदे हैं? ऐसा करके, आप इन उम्दा व्यवसायों के अंश-स्वामी बन जाते हैं। अब आप SENSEX में दो तरह से निवेश कर सकते हैं।

  •  शेयरों में सीधे उसी अनुपात में निवेश करें जिस अनुपात में SENSEX का वेटेज है

आप इस इंडेक्स में सीधे SENSEX के घटकों और उनके भार में निवेश करना शुरू कर सकते हैं। इसका मतलब है कि आप शेयरों को उनके वजन के हिसाब से खरीद सकते हैं।

  • Index Mutual Funds में निवेश करें

Index Mutual Funds में निवेश करना SENSEX में निवेश करने का एक शानदार तरीका है। ये फंड्स SENSEX के ही प्रतिरूप हैं, जिसका अर्थ है कि उनके पास इंडेक्स के समान पोर्टफोलियो है। नतीजतन, SENSEX इंडेक्स फंड में SENSEX के तुलनीय अनुपात में 30 स्टॉक होंगे।

SENSEX के उतार-चढ़ाव का क्या मतलब है?

अगर SENSEX बढ़ेगा तो BSE में लिस्टेड ज़्यादातर बड़े कारोबारों के स्टॉक की कीमतें बढ़ जाएँगी। अगर SENSEX गिरेगा तो BSE में लिस्टेड ज़्यादातर अहम स्टॉक्स के स्टॉक की कीमतों में भी गिरावट आएगी।

नोट! यदि आप SENSEX शेयर बाजार के बारे में अधिक जानकारी चाहते हैं, तो आप Wikipedia या Wiki Answers, Google Finance या www.yahoo.com देख सकते हैं।

आज का SENSEX क्या है?

sensex आज
जैसा कि हमने कहा, आप Google Finance पर लाइव SENSEX ट्रेंड्स की जाँच कर सकते हैं। यह लाइव चार्ट, सेंसेक्स टाइमिंग, स्टॉक की कीमत ऊपर है या नीचे, रीयल-टाइम ट्रेडिंग और हर तरह की शेयर स्थिति सहित सब कुछ दिखाता है। इसके अलावा, यदि आप SENSEX के मूल्य का पिछले दिन का और आने वाले कल का पूर्वानुमान देखना चाहते हैं, तो आप उन्हें ऑनलाइन देख सकते हैं।

SENSEX के प्रदर्शन के बारे में अधिक जानकारी के लिए, आप BSE लाइव चार्ट को ग्राफ़ के साथ उचित प्रतीकों, टिकरस और पॉइंटर्स के साथ देख सकते हैं। यह SENSEX के ट्रेंड्स के सही विश्लेषण के साथ वह कितने अंक ऊपर या नीचे चला गया है भी दिखाता है। साथ ही, यह स्टॉक एक्सचेंज के क्लोजिंग प्राइस को भी दिखाता है।

SENSEX की आज की खबर

bse लिमिटेड
आप BSE SENSEX के माध्यम से भारतीय इक्विटी बाजार की तेजी और हलचल की पहचान कर सकते हैं। SENSEX की खबरें हिंदी और अंग्रेजी दोनों में उपलब्ध हैं। आज, आप भारतीय शेयर बाजार और स्टॉक एक्सचेंज पर ऑनलाइन S&P BSE SENSEX के बारे में लाइव अपडेट प्राप्त कर सकते हैं।

विभिन्न प्लेटफार्मों पर SENSEX के मौजूदा शेयर मूल्य, रिपोर्ट और आज के लाइव इंडेक्स प्राप्त करें। ऐसे कई ऐप भी हैं जो “BSE SENSEX टुडे” की रिपोर्ट देते हैं और रीयल-टाइम में अपडेट किए जाते हैं।

निष्कर्ष

इंडियन स्टॉक मार्किट बढ़ रहा है और इसमें निवेशकों के लिए काफी संभावनाएँ हैं। शेयर बाजार में निवेश करने से पहले, यह समझना आवश्यक है कि यह कैसे काम करता है और इसमें क्या जोखिम शामिल हैं।

यदि आप इंडियन स्टॉक मार्किट में निवेश करना चाहते हैं, तो आपको यह समझना होगा कि BSE/NSE क्या है और इसके सभी विवरण। SENSEX पर विशेष ध्यान देना चाहिए कि इसकी गणना कैसे की जाती है और कब निवेश करना चाहिए। साथ ही, कोई भी निर्णय लेने से पहले अपने निवेश विकल्पों और जोखिमों को तोलना सुनिश्चित करें। अभी से SENSEX के साथ स्टॉक बाजार में निवेश और ट्रेडिंग शुरू करें!

Rate article
Online Investment